India politics state

गुजरात / हार्दिक पटेल को चुनावी सभा में युवक ने थप्पड़ मारा, आरोपी को समर्थकों ने पीटा

  • गुजरात के सुरेंद्रनगर में जनसभा को संबोधित कर रहे थे हार्दिक पटेल
  • थप्पड़ मारने वाले को पुलिस ने भीड़ से बचाकर हिरासत में ले लिया

सुरेंद्रनगर. कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल शुक्रवार को गुजरात के सुरेंद्रनगर में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान एक अनजान व्यक्ति ने मंच पर आकर हार्दिक को थप्पड़ मार दिया। हार्दिक के समर्थकों ने आरोपी को पकड़कर पीट दिया। पुलिस ने बीचबचाव कर युवक को भीड़ से बचाया और हिरासत में ले लिया। घटना के बाद हार्दिक ने कहा कि भाजपा मुझ पर हमले करवा रही है। वे मुझे जान से मारना चाहते हैं, लेकिन हम चुप नहीं रहेंगे। थप्पड़ मारने वाले व्यक्ति का नाम तरुण गज्जर बताया जा रहा है।

तरुण ने हार्दिक को 14 युवकों की मौत का जिम्मेदार बताया
थप्पड़ मारने वाला व्यक्ति पाटीदार आंदोलन के दौरान मारे गए 14 युवकों की हत्या के लिए हार्दिक को जिम्मेदार ठहरा रहा था। तरुण थप्पड़ मारने के बाद हार्दिक के राहुल गांधी (कांग्रेस) के साथ जुड़ने के विरोध में भी चिल्ला रहा था। तरुण गुजरात के महेसाणा जिले के कड़ी तालुका के जेसलपुर का रहने वाला है। पुलिस मामले में छानबीन कर रही है।

हार्दिक ने कहा- हमलावर बाहरी है स्थानीय नहीं

पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के पूर्व नेता हार्दिक पटेल का गुजरात गृहराज्य है। वे सुरेन्द्रनगर जिले के वढवाण तालुका के बलदाणा गांव में कांग्रेस की जन आक्रोश रैली को संबोधित कर रहे थे। हार्दिक ने इस घटना के बाद भी अपना संबोधन जारी रखा। उन्होंने बाद में पत्रकारों से कहा कि यह उन्हें डराने के लिए भाजपा की साजिश है। हमलावर बाहरी है स्थानीय नहीं।

14 युवकों की मौत पर राजनीति करने के तरुण के आरोप पर हार्दिक ने कहा कि हमलावर की बात को वह नहीं सुन पाए, लेकिन उसे कोई नाराजगी भी थी तो वह बात कर सकता था। सीधे आतंकी की तरह मारना सही नहीं है। उन्होंने कहा कि वह पुलिस को इस बारे में औपचारिक सूचना देंगे ताकि भविष्य में उनकी हत्या या गंभीर हमले होने पर इसकी जिम्मेदारी तय हो सके। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शैलेश परमार ने इसे भाजपा का षडयंत्र करार देते हुए कहा कि गुजरात में हार्दिक की सभाओं में उमड़ने वाली भीड़ से सत्तारूढ़ दल (भाजपा) घबरा गया है।

किसानों ने हार्दिक का हेलिकॉप्टर उतरने नहीं दिया था

इससे पहले गुरुवार गुजरात के महिसागर में किसानों के विरोध की वजह से हार्दिक का हेलिकॉप्टर खेत में नहीं उतरने दिया गया था। वे पंचमहाल लोकसभा सीट पर कांग्रेस के उम्मीदवार वीके खांट के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे थे। खेत में रातों-रात हेलिपेड बनाया गया था, लेकिन ऐन वक्त पर अपर कलेक्टर ने हेलिकॉप्टर उतरने की अनुमति को रद्द कर दिया। कांग्रेस का आरोप है कि ऐसा दुर्भावना से किया गया और भाजपा ने किसानों को उकसाया है।

भाजपा प्रवक्ता नरसिम्हा राव पर जूता फेंका
इससे पहले गुरुवार को भाजपा कार्यालय में पार्टी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक व्यक्ति ने जूता फेंका था। यह पहली बार है जब भाजपा कार्यालय में ऐसी कोई घटना हुई। बताया जा रहा है कि जीवीएल प्रेस कॉन्फ्रेंस में भोपाल से भाजपा की प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी पर बात कर रहे थे। जीवीएल ने घटना के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं रोकी और पत्रकारों से बैठे रहने को कहा। उन्होंने कहा कि हमलावर ने कांग्रेस की मानसिकता दर्शाई है। इस दौरान भाजपा के महासचिव भूपेंद्र यादव भी मंच पर मौजूद थे। जूता फेंकने वाले की पहचान कानपुर के डॉ. शक्ति भार्गव के रूप में हुई, जो अपने आपको व्हिसल ब्लोअर बताता है।

केजरीवाल को मारा था थप्पड़
2014 में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी एक रोड शो के दौरान एक ऑटो ड्राइवर ने थप्पड़ मारा था। उस समय केजरीवाल दिल्ली के किराड़ी इलाके में रोड शो कर रहे थे। इसी दौरान ऑटो ड्राइवर फूल माला पहनाने के लिए पास आया और केजरीवाल को थप्पड़ जड़ दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *