India sport

RCB vs KXIP: एबी डिविलियर्स ने बताया अपनी नाबाद 82 रन की तूफानी पारी का राज..

AB de Villiers:एबी डिविलियर्स ने कहा, “हमारे पास खोने को कुछ नहीं हैं. हम सिर्फ मैदान पर जाकर अपने खेल का लुत्फ उठाना चाहते हैं. हम दुर्भाग्यशाली रहे कि टूर्नामेंट की शुरुआत में हम मैच खत्म नहीं कर पाए.

बेंगलोर: RCB vs KXIP: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2019) के 12वें संस्करण में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ नाबाद 82 रनों की पारी खेलकर एबी डिविलियर्स (AB de Villiers) ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की जीत में अहम भूमिका निभाई. अपनी इस पारी के दौरान एबी ने विकेट के हर तरफ शॉट्स खेले. शमी की गेंद पर उनके द्वारा एक हाथ से लगाया गया 95 मीटर लंबा छक्‍का तो हर किसी को हैरान कर गया. यह डिविलियर्स की पारी ही थी जिसके कारण आरसीबी की टीम (RCB vs KXIP)निर्धारित 20 ओवस में 200 रन के स्‍कोर को पार कर पाई.  डिविलियर्स ने बुधवार के इस मैच में  मार्कस स्टोइनिस के साथ पांचवें विकेट के लिए 121 रनों की साझेदारी की. एबी यानी अब्राहम डिविलियर्स ने कहा है कि उनकी कोशिश आखिरी के ओवरों में शांत रहते हुए बल्लेबाजी करने की थी.

मैच के बाद डिविलियर्स (AB de Villiers) ने कहा, “मेरी कोशिश आखिरी के ओवरों में शांत रहते हुए बल्लेबाजी करने की थी. यह हमेशा आसान नहीं होता. मैच काफी तेजी से निकलता है. हम अपने घरेलू मैदान को काफी अच्छी से जानते हैं. यह हमारे लिए शुरुआत करने के लिए अच्छा साबित नहीं हुआ था लेकिन हम चीजें बदल रहे हैं. हम अब काफी अच्छे से चीजें कर रहे हैं.” दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ने कहा, “हम एक टीम के तौर पर भी बेहतर कर रहे हैं. मुझे अभी भी लगता है 160 अच्छा स्कोर था, लेकिन दूसरी पारी में स्थिति बदल जाती है. हमारे गेंदबाजों ने रणनीति को अच्छे से लागू किया.” दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा कि उनकी टीम के पास खोने के लिए कुछ नहीं है. डिविलियर्स (AB de Villiers) ने कहा, “हमारे पास खोने को कुछ नहीं हैं. हम सिर्फ मैदान पर जाकर अपने खेल का लुत्फ उठाना चाहते हैं. हम दुर्भाग्यशाली रहे कि टूर्नामेंट की शुरुआत में हम मैच खत्म नहीं कर पाए. यह अच्छे प्रदर्शन को परिणाम में बदलने की बात है. कोहली और मेरे बीच में अच्छा तालमेल है. अगर मैं 150 के ऊपर की स्ट्राइक से रन करूंगा तो वह आराम से खेलेंगे.”

दूसरी ओर, पराजित टीम किंग्स इलेवन पंजाब आर. अश्विन (R. Ashwin)ने कहा, मैच में कई ऐसे पल थे जहां वह हावी हो सकते थे लेकिन उनकी टीम ऐसा नहीं कर पाई. अश्विन ने कहा, “कई ऐसे पल हैं जिन्हें देखकर मुझे लगा कि हम मैच हार गए, लेकिन ईमानदारी से कहूं तो टी-20 वो प्रारूप है जहां आपको इन दबाव के पालों पर जीत हासिल करनी होती है. हम आखिरी के कुछ मैचों में इन्हीं तरह की स्थितियों पर जीत हासिल नहीं कर पाए. अगर हम उन पलों में हावी रहते तो हमारे शायद और ज्यादा अंक होते. अश्विन ने कहा, हमारे मध्य क्रम में अनुभव है लेकिन हम दबाव में कुछ नहीं कर पाए.”अश्विन ने कहा कि एक जीत पंजाब की टीम को वापस उसी राह पर पहुंचा देगी जहां वह थी. उन्होंने कहा, “यह सिर्फ एक जीत की बात है और हम भी बेंगलोर की तरह पटरी पर लौट आएंगे. इसलिए सिर्फ एक जीत उसके बाद हम घर जाकर कुछ और मैच जीतने की कोशिश करेंगे.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *