Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

एजुकेशन लीडरशिप रिट्रीट 2024 समिट में राजस्थान का प्रतिनिधित्व किया जीआईएस न

गुढ़ागौड़जी, झुंझुनू 18 मई।

संवाददाता दिनेश जाखड़

राष्ट्रीय स्तर के शैक्षिक प्रशिक्षण में शिरकत की जीआईएस के चैयरमेन व प्राचार्य

गुढ़ागौड़जी उपखंड के गुढ़ा इंटरनेशनल स्कूल के चैयरमेन सम्पत बेनीवाल व प्राचार्य रोहिताश्व डूडी ने 09 से 11 मई तक हिमाचल प्रदेश के कसौली स्थित पाइनग्रोव स्कूल में नवाचारी शिक्षा पर आधारित राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षण एजुकेशन लीडरशिप रिट्रीट 2024 में शिरकत की। बेनक्यू एजुकेशन, एजुनेक्स्ट , पाइनग्रोव, एजुकेशन वर्ल्ड,बोर्डिंग स्कूल्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया, दी लॉरेंस स्कूल सनावर के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित इस समिट में देशभर के नामचीन हस्तियों ने शिरकत की। इस समिट के मुख्य रिसोर्स पर्सन मेयो कॉलेज अजमेर के सचिव लेफ्टिनेंट जनरल सुरेंद्र कुलकर्णी, 130 देशो में भारत के राजदूत रहे डॉ. संदीप कुमार, डीएलएफ फाउंडेशन स्कूल की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डॉ. अमिता, दून स्कूल देहरादून के प्राचार्य डॉ. जगप्रीत सिंह ,शिक्षाविद डॉ. प्रजापति त्रिवेदी, बोर्डिंग स्कूल्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया(बीएसएआई) के अध्यक्ष डॉ. सुमेर सिंह आदि थे।सभी शिक्षाविदों व रिसोर्स पर्सन ने 11 से 13 मई तक अलग अलग चरणों में देश के टॉप क्लास के प्राचार्यों व संस्था प्रधानों को संबोधित किया।अपने संबोधन में सभी रिसोर्स पर्सन ने एक्टिविटी बेस्ड लर्निंग अप्रोच, क्रियात्मक अनुसंधान, अन्वेषण आधारित शिक्षण, समय प्रबंधन क्षमता, उच्च सामाजिक मानसिकता, दलीय शिक्षा पर आधारित उपागम, विद्यार्थियों में नेतृत्व के गुणों को विकसित करना, विषय वस्तु को विद्यार्थियों के अन्तःकरण तक ले जाना व दैनिक जीवन में उसका उपयोग करना जैसे बिंदुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। इस आवासीय प्रशिक्षण में भारत के उन सीबीएसई मान्यता प्राप्त विद्यालयों के सभी निदेशक व प्राचार्य भाग लेते हैं जो समय समय पर सीबीएसई व शिक्षा मंत्रालय को शैक्षिक जगत से संबंधित सुझाव व सलाह देते हैं ।इस वार्षिक प्रशिक्षण में उन प्राचार्यों व निदेशकों को पैनल बोर्ड में आमंत्रित किया जाता है जिन्होंने वर्तमान शिक्षा प्रणाली के सभी मानकों को अपनाते हुए विद्यालय स्तर से राष्ट्रीय स्तर तक नवाचार आधारित शिक्षण को प्राथमिकता दी हो। इस कार्यक्रम में जीआईएस चैयरमेन सम्पत बेनीवाल व प्राचार्य रोहिताश्व डूडी ने राजस्थान राज्य की सीबीएसई स्कूलों का प्रतिनिधित्व करते हुए विद्यार्थियों के शैक्षिक, सह शैक्षिक गतिविधियों, सामाजिक वातावरण, मानसिक स्वास्थ्य, अभिप्रेरणा का महत्व आदि बिंदुओं पर प्रश्नोतरी के साथ शिक्षाविदों से रूबरू हुए । प्रशिक्षण के अंत में सभी शिक्षाविदों का समापन समारोह हिमाचल प्रदेश के कसौली स्थित एशिया के प्रथम सहशैक्षणिक आवासीय विद्यालय दा लॉरेंस स्कूल सनावर में हुआ।जिसमे सभी को प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिह्न से नवाजा गया प्रशिक्षण से लौटने के बाद चैयरमेन बेनीवाल ने कहा कि यह समिट हमें भविष्य के अच्छे विद्यार्थी, अच्छे शिक्षक तैयार करने में काफी मदद देगी।प्राचार्य डूडी ने कहा कि इस प्रशिक्षण में शिक्षा,शिक्षा प्रणाली, शिक्षा को विद्यार्थी के अंतः करण तक पहुंचाना आदि पर तीन दिन व्यापक चर्चा चली।उन्होंने कहा कि यह प्रशिक्षण हमारी कार्यप्रणाली को नवीन आयाम प्रदान करेगी ।

liveworldnews
Author: liveworldnews

Leave a Comment

लाइव क्रिकेट

संबंधि‍त ख़बरें

सोना चांदी की कीमत