Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

डाबी गौषाला में निर्माणाधीन गोबरधन बायोगैस प्लान्ट का डीपीसी स्वच्छ भारत मिषन ने किया निरीक्षण

बूंदी(कोटा संभाग) 24 मई।

संवाददाता शिवकुमार शर्मा

भारत सरकार, जल शक्ति मंत्रालय, पेयजल एवं स्वच्छता विभाग द्वारा स्वच्छ भारत मिषन योजना अन्तर्गत देष के प्रत्येक जिले में एक गोबरधन बायोगैस प्लान्ट स्थापित करवाये जा रहे है। इसी के तहत बून्दी जिले में तालेडा ब्लॉक के डाबी ग्राम की श्री गोपाल गोषाला में गोबरधन बायोगैस प्लान्ट का निर्माण किया जा रहा है, निर्माणाधीन बायोगैस प्लान्ट स्थल का निरीक्षण आज स्वच्छ भारत मिषन के जिला परियोजना समन्वयक (डीपीसी) निजामुद्दीन ने किया।
स्वच्छ भारत मिषन योजना अन्तर्गत ग्राम डाबी में नेषनल हाईवे के समीप श्री गोपाल गौषाला डाबी में 50 लाख रूपये की लागत से गोबरधन बायोगेस प्लान्ट का निर्माण करवाया जा रहा है। जिसमें गौबर से गैस एवं बिजली का उत्पादन होगा, जिसकी 85 घन मीटर की क्षमता होगीं, उक्त बायोगेस प्लान्ट के निर्माण में अप्लोडिग प्लेट फार्म, स्लरी मिष्ंिाग टंेक निर्माण, स्लरी फिटिंग चेम्बर, स्लरी इनलेट चेम्बर, डाईजेस्टर टेंक, आउटलेट स्लरी चेम्बर, स्लरी स्टोरेज टेंक, सोलिड लिकविड सेपरेटर, बलून और गनसेट रूम (गैस इक्ठा करने के लिए), सोलिड लिकविड मषीन प्लेट फार्म का निर्माण किया जावेगा। गोबरधन बायोगैस प्लान्ट के लिए 16 फिट गहरे गड्ढे की खुदाई जेसीबी के पत्थर तोड कर खुदाई की जा रही है, जिस पर सीमेन्ट और कन्क्रीट से चिनाई करवाकर गोबरधन प्लांट में गैस एवं स्लरी एवं गोबर गैस के लिए टेंक का निर्माण किया जावेगा, उस उपरान्त गौबर से गैस बनाये जाने के लिए मषीन लगाई जावेगी। गोबरधन बायोगैस प्लान्ट स्थापित निर्माण करने के लिए प्रोजेक्ट के इसके लिए एक कमेटी है, जिसके अध्यक्ष जिला कलक्टर अक्षय गोदारा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद, दुर्गा शंकर मीणा, सयुक्त निदेशक पशु पालन विभाग , सयुक्त निदेशक कृषि विभाग शामिल है। जिला परियोजना समन्वयक (डीपीसी) प्रषासनिक अवलोकनकर्ता एवं निरीक्षणकर्ता, पंचायत समिति, तालेडा कार्यकारी एजेन्सी, ग्राम पंचायत डाबी प्रबंधन कमेटी, डाबी गोपाल गौषाला निगरानी कमेटी, सहायक अभियंता सीडी, जिला परिषद, सहायक अभियंता, पंचायत समिति, कनिष्ठ तकनीकी सहायक, ब्लॉक समन्वयक, स्वच्छ भारत मिषन, पंचायत समिति, तालेडा तकनीकी निरीक्षणकर्ता हैं। निजामुद्दीन ने बताया कि इसकी गुण्वता पर विषेष ध्यान दिया जा रहा है। यदि इसके अतिरिक्त राषि की आवष्यकता होती है तो और अधिक राषि स्वीकृत की जावेगी। डाबी बायोगैस प्लान्ट राज्य में मॉडल बने इसके लिए बेहतरीन प्रयास किये जा रहे है। बायोगैस प्लान्ट राज्य एवं देष में मिषाल बने इसके लिए तकनीकी एवं विषेषज्ञ की सहायता ली जा रही है।
निजामुद्दीन ने गोषाला अध्यक्ष एवं समिति के साथ निर्माणाधीन गोबरधन प्लाट का अवलोकन किया, गोषाला में 600 से अधिक गाये, नन्दी एवं बछडे है। जिसमें गायो के लिए बनी हुई गौषाला कम्पार्ड, नदीषाला कम्पार्ड, गायो के पीने के पानी के लिए बनी हुई पानी की खेल, पानी के लिए लगी हुई ट्यूबवेल, गौषाला में बन रही नई बाउन्ड्री दिवार, पशुओ के लिए दाना-पानी की खेल, गायो के छोटे बछडे- बछडिया, नन्दी, नदीषाला छत एवं पानी की खेल का अवलोकन किया गया।
डीपीसी निजामुद्दीन ने बताया कि गोबर-धन परियोजना (बायोगैस संयंत्र) संयंत्र की स्थापना एवं संचालन रख-रखाव हेतु कार्मिको के आवास हेतु अस्थायीध्स्थायी शेड का निर्माण किया जाबेगा। बायोगैस संयंत्र की प्रतिदिन उत्पादन क्षमता के अनुसार एवं संयंत्र की आवष्वतानुसार गोबर, पानी एवं बिजली इत्यादि की सुविधाये डाबी गोषाला में पर्याप्त उपलब्ध है। गोषाला मे ंपानी की कमी होने के कारण ग्राम पंचायत, डाबी द्वारा बौंिरग लगाकर ट्यबवेल लगवाई जावेगी। गोबर-धन परियोजना (बायोगैस संयंत्र) के निर्धारित समयावधि में संचालन हेतु, रख-रखाव, प्रबंधन एवं संयंत्र के संचालन हेतु आवष्यक प्रषिक्षित श्रमिक ध्कर्मचारी की नियुक्ति किये जावेगे। उत्पादन बॅायोगबैसध्विद्युतध्जैविक खाद, स्लरीध्प्रोम आदि पर सम्पूर्ण अधिकार डाबी गोषाला का होगा।
निर्माणधीन बायोगैस प्लान्ट, डाबी गोपाल गोषाला के निरीक्षण में जिला परियोजना समन्वयक, डीपीसी, स्वच्छ भारत मिषन, जिला परिषद, कलेक्ट्रेट बून्दी श्री निजामुद्दीन के साथ अध्यक्ष श्री गोपाल गोषाला डाबी, श्री प्रकाष चन्द्र राठोर, पूर्व उप प्रधान, तालेडा, श्री ओमप्रकाष राठोर, ब्लॉक समन्वयक, स्वच्छ भारत मिषन, पंचायत समिति, तालेडा श्री जगदीष चन्द्र शर्मा, कनिष्ठ सहायक, ग्राम पंचायत, डाबी, श्री रमेष बंजारा, बायोगेस बनाने वाली फर्म संवेदक एवं कर्मचा

liveworldnews
Author: liveworldnews

Leave a Comment

लाइव क्रिकेट

संबंधि‍त ख़बरें

सोना चांदी की कीमत