Rajasthan : नागौर में तीन भाइयों ने भांजी की शादी में भरा 3.21 करोड़ का भात; इकलौती बहन के लिए रचा इतिहास

तीन किसान भाइयों ने राजस्थान के नागौर जिले का इतिहास रचा। तीनो भाई अपनी भांजी की शादी में 3 करोड़ 21 लाख का भात लेकर पहुंचे। सभी राज्यों में इसकी चर्चा है। मामले के मुताबिक बुरदी और झादेली के रहने वाले भंवरलाल गरवा की बहू अनुष्का ढींगसारी के रहने वाले कैलाश से शादी करेंगी. बुधवार को भंवरलाल गरवा और उनके तीन बेटों हरेंद्र, रामेश्वर और राजेंद्र ने यह मायरा भरा।

भंवरलाल का परिवार कृषि से जुड़ा है। इस समृद्ध कृषक परिवार के पास करीब साढ़े तीन सौ एकड़ जमीन है। मायरे को 81 लाख रुपए नकद, 16 बीघा जमीन, 30 लाख प्लॉट, 41 सोना, 3 किलो चांदी दी गई। साथ ही एक नया ट्रैक्टर, धान से भरी ट्रॉली और एक स्कूटी भी भेंट की। इतना ही नहीं गांव के हर परिवार को चांदी का एक सिक्का दिया है। अचल संपत्ति, वाहन और पैसा मिलाकर करीब 3 करोड़ 21 लाख बैठे हैं।

मायरा में लड़की के परिवार को उसकी मां की ओर से जमीन से जुड़े सभी दस्तावेज दिए गए। पूरे गांव के लिए चांदी के सिक्के थाल में सजाकर रखे गए थे। इसके साथ ही भाइयों ने अपनी बहन को 500-500 के नोटों से सजी चुनरी भी ओढ़ाई है। नागौर जिले में हर साल कोई न कोई मायरा भर जाता है जो इतिहास के पन्नों में दर्ज है। पिछले एक महीने में आधा दर्जन मायरे ऐसे भरे गए हैं, जो एक-एक करोड़ तक के रहे। फरवरी में ही रजोद गांव के दो भाइयों सतीश गोदारा और मुकेश गोदारा ने अपनी बहन संतोष की शादी सोनेली गांव में मनाई थी. भाइयों ने 71 लाख रुपए, 41 हजार डॉलर और 41 तोला सोना भेंट किया था।

राजस्थान में बहनों की शादी के दौरान मायके के नाम पर मायरा भरने की प्रथा है। इसे हिंदी पट्टी में सामान्य तौर पर भात भरना भी कहा जाता है। इस समारोह में भांजी को कपड़े, गहने, पैसे और कई अन्य चीजें दी जाती हैं। मामा अपनी श्रद्धा और सामर्थ्य के अनुसार बहन के ससुराल पक्ष के लोगों को उपहार स्वरूप वस्त्र, आभूषण आदि भी देती हैं।

liveworldnews
Author: liveworldnews

Leave a Comment

लाइव क्रिकेट

संबंधि‍त ख़बरें

सोना चांदी की कीमत