Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

नित्य संध्यावंदन और यज्ञोपवित पालन है श्रेष्ठ कर्म: ज्ञानानंद सरस्वती

राजसमन्द। पालीवाल ब्राह्मण महासभा मेवाड़ द्वारा -शहर के निकटवर्ती सुन्दरचा गाँव में आयोजित सात दिवसीय प्रथम वैदिक संस्कार प्रशिक्षण शिविर का समापन उपस्थित संभागियों द्वारा सनातन परंपरा व वैदिक संस्कारों के नित्य पालन के संकल्प के साथ हुआ। मुख्य अतिथि संत शिरोमणि पूज्य ज्ञानानन्द सरस्वती ने इस अवसर पर कहा की नियमित गायत्री उपासना संध्या वंदन और यज्ञपवित पालन को ब्राह्मण का श्रेष्ठ कर्म है और यही हमारी ताकत है। उन्होने बटुकों को शिवीर में अर्जित ज्ञान को जीवन में आत्म सात करने सदैव माता पिता गुरु संतजन विप्रजन का सम्मान गौ माता की सेवा, दिन में कम से कम एक भलाई का कार्य अवश्य करने हेतु प्रेरित किया। उन्होने कहा कि ब्रह्म ज्ञान और ब्रह्म कर्म से ही हम उन्नति पथ पर अग्रसर होगें। कार्यक्रम के अध्यक्ष पूर्व विधायक मावली एवम ब्राह्मण महासभा अध्यक्ष धर्मनारायण जोशी ने समाज के युवाओ को घर परिवार ग्राम व राष्ट्र की उन्नति के लिऐ कार्य करने का आव्हान किया तथा अपनी सनातन संस्कृति व वैदिक संस्कारों को जीवन भर पालन की अपिल की। महामंत्री भंवर लाल पालीवाल ने बताया कि इसी वर्ष जून माह में ग्राम गवारडी ओर केलवा में भी शिविर का आयोजन होगा तथा इसके अतिरिक्त भी जहां भी 50 से अधिक बटुक उपल्ब्ध होंगे वहा शिविर की व्यवस्था की जायेगी तथा महासभा द्वारा जुलाई माह से कक्षा 10 के लिऐ निशुल्क कोचिंग कक्षा शुरू की जायगी। इस अवसर पर आगामी शिविर केलवा के सफल आयोजन हेतु अतिथियों ने बद्रीलाल पालीवाल, गोपाल पालीवाल केलवा, किशन पालीवाल मोरवड, भगवती लाल पालीवाल धर्मेटा, कपिल पालीवाल धायला को दायित्व दीया। कार्यक्रम को इश्वरलाल पालीवाल मोगाना हगामीलाल पालीवाल भरत पालीवाल भगवती लाल पालीवाल ने भी संबोधित किया।प्रारंभ में नंदकिशोर बागोरा ने ग्राम एवम जगदीश दवे ने महासभा की ओर से स्वागत उद्बोधन दीया।
शिविर के प्रमुख आचार्य किशनलाल जोशी व प्रवीण बागोरा ने बताया कि शिविर में सुंदरचा साकरोदा पीपरडा कांकरोली डबोक दीयान नेडच सहित आस पास के गावो के कुल 49 बटुक ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। जिन्हे अतिथियों द्वारा प्रशस्ति पत्र साहित्य हनुमान चालीसा और गिफ्ट प्रदान किया। अंत में शिविर समापन घोषणा कार्यकारी अध्यक्ष केशुलाल पालीवाल ने तथा ओम पुरोहित ने आभार ज्ञापित किया।मंच संचालन राजेश जोशी भगवानदा ने किया। इस अवसर पर सुंदरलाल पालीवाल, विष्णु पालीवाल धायला, तुलसीराम बागोरा, भवानी शंकर पालीवाल खटामला, योगेश पंडित, मुकेश जोशी, कमलेश पालीवाल, नरोत्तम पालीवाल, संजय पालीवाल, महेश पालीवाल, पंडित अर्जुन पालीवाल, देवीलाल पालीवाल सहित सेंकडो पालीवाल बंधु उपस्थित थे।

LIVE WORLD NEWS
Author: LIVE WORLD NEWS

Leave a Comment

लाइव क्रिकेट

संबंधि‍त ख़बरें

सोना चांदी की कीमत