Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

युवा पीढ़ी को तम्बाकू से दूर रखने के लिए जनजागृति महत्वपूर्ण कदम-कोली

बूंदी (कोटा संभाग) 31 मई।

संवाददाता शिवकुमार शर्मा

विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर कार्यशाला का आयोजन

बूंदी जिले को धूम्रपान मुक्त जिला घोषित करने के लिए विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर शुक्रवार को जिला कलक्टेªट सभागार में अतिरिक्त जिला कलक्टर नवरत्न कोली की अध्यक्षता में कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जिला कलक्टर अक्षय गोदारा ने शिक्षा, चिकित्सा, जिला कलक्टेªट, पुलिस विभाग को धूम्रपान मुक्त बूंदी के प्रशस्ति पत्र प्रदान किए।
कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए अतिरिक्त जिला कलक्टर ने कहा कि युवा पीढ़ी को तंबाकू से दूर रखने के लिए जनजागृति महत्वपूर्ण कदम होगा। उन्होंने सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान रोकने के प्रयासों के लिए जिले की टीम को बधाई देते हुए कहा कि अब समस्त शिक्षण संस्थानों व कार्यालयो को तम्बाकू मुक्त करना प्राथमिकता होनी चाहिए।
बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ओ.पी. सामर ने कहा कि एम्स जोधपुर द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार जिले में कोटपा- 2003 की धारा 4 की पालना 80 प्रतिशत से अधिक होने पर धूम्रपान मुक्त जिला घोषित किया गया है। उन्होंने कहा कि आगामी 21 जून तक एक्शन प्लान बनाकर तम्बाकू मुक्त राजस्थान अभियान को आगे बढ़ाने व कोटपा- 2003 का प्रभावी क्रियान्वयन करने का प्रयास किया जाएगा।
कार्यशाला में एसआरकेपीएस के राज्य समन्वयक हिरेन्द्र सेवदा ने कोटपा 2003 की धाराओं के बारे में जानकारी देते हुए तंबाकू मुक्त शिक्षण संस्थान व जिले में तंबाकू विक्रेताओं के लिए लाइसेंस प्रणाली लागू करने के लिए विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। कार्यशाला के अंत में संस्था के महेश लोधा ने सभी का आभार प्रकट किया।
कार्यशाला में अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कमलेश शर्मा, क्षय रोग अधिकारी कुलदीप मीणा, विकास अधिकारी सुरेश वर्मा, श्रम विभाग के संजय कुमार,राज्य समन्वयक हिरेंद्र सेवदा आदि मौजूद रहे।

liveworldnews
Author: liveworldnews

Leave a Comment

लाइव क्रिकेट

संबंधि‍त ख़बरें

सोना चांदी की कीमत