Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा एक सप्ताह में सभी आंगनबाड़ी केंद्रो का हो सर्वे-कलक्टर

ब्यूरो चीफ़ शिवकुमार शर्मा
कोटा राजस्थान

महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा बैठक में जिला कलक्टर डॉ. रविन्द्र गोस्वामी ने सभी आंगनबाड़ी केंद्रों का सर्वे करवाने एवं जर्जर हो रहे आंगनबाड़ी भवनों को चिन्हित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी आंगनबाड़ी केंद्रो पर आधारभूत सुविधा उपलब्ध हो तथा आंगनबाड़ी केंद्र के आसपास बिजली के तार, ट्रांसफॉर्मर आदि नहीं हो। डॉ. गोस्वामी ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों में सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए दानदाताओं एवं भामाशाहों को प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कोटा शहर एवं ग्रामीण में खिलौना बैंक जल्द से जल्द स्थापित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा समस्त कार्य की ऑनलाइन समय पर फीडिंग की जाए। बैठक में महिला सुरक्षा को लेकर पुलिस विभाग द्वारा बताया गया कि आवश्यकता अनुसार महिलाओं को परामर्श, निशुल्क कानूनी सहायता एवं महिला की इच्छा के अनुरूप कार्रवाई कर उनको सहायता प्रदान की जाती है। कलक्टर ने पुलिस विभाग को कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रत्येक महिला को गुणवत्तापूर्ण समाधान मिले एवं वह प्रक्रिया से संतुष्ट हो। कन्या वाटिका के संदर्भ में उन्होंने कहा कि विभिन्न ऐसे स्थानों को चिन्हित किया जाए जहां पर कन्या जन्म पर पेड़ लगाए जा सके एवं भविष्य में उनकी देखरेख भी की जाए। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि पीसीपीएनडीटी में सतर्क रहकर ‘‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’’ योजना को सार्थक बनाएं।
उन्होंने कहा शिक्षा विभाग उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली छात्राओं की सूची तैयार कर समस्त औपचारिकताओं को समय पर पूर्ण करें ताकि बालिका दिवस पर छात्राओं को नियमानुसार आर्थिक पुरस्कार दिए जाएं। उन्होंने कहा सभी विभाग सुनिश्चित करें कि विशाखा समिति का गठन उनके कार्यालय में किया जाए एवं समिति की अध्यक्ष व सदस्य महिलाओं को रखने का प्रयास किया जाए।
सुझाव पेटिका में बिना झिझक सुझाव दें सकें विद्यार्थी जिला बाल संरक्षण समिति की त्रैमासिक समीक्षा बैठक में जिला कलक्टर ने निर्देशित किया कि प्रत्येक स्कूल में सुझाव पेटिका ऐसे स्थान पर रखी जाए जहां छात्र-छात्राएं अपनी शिकायत गोपनीयता के साथ दे सकें। उन्होंने कहा स्कूल में प्रार्थना सभा के दौरान शिकायत पेटिका की जानकारी विस्तार से प्रदान की जाए। उन्होंने शिशुगृह, आश्रय गृह, ओपन शेल्टर होम की जानकारी ली और निर्देश दिए कि विभाग समस्त केंद्रों का नियमित निरीक्षण सुनिश्चित करें। उन्होंने नशा मुक्ति कार्यक्रम पर विशेष बल देते हुए ड्रग इंस्पेक्टर को निर्देशित किया कि विभिन्न दवा केंद्र पर निरीक्षण के समय सभी केंद्र पर लगे सीसीटीवी फुटेज का भी निरीक्षण किया जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी नशीली दवा की बिक्री केंद्र पर नहीं हो रही है। उन्होंने कहा प्रत्येक स्कूल व विभिन्न स्थानों पर चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर चस्पा किए जाएं एवं नियमित रूप से स्कूल में गुड टच, बैड टच की जानकारी दी जाए। उन्होंने गुमशुदा बच्चों, बालश्रम में हो रही कार्रवाई की भी जानकारी ली। बैठक में विश्व बाल श्रम निषेध दिवस पर पोस्टर का विमोचन भी किया गया। बैठक में उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास गजेंद्र सिंह, संयुक्त निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग सविता कृष्णिया, बाल अधिकारिता विभाग के सहायक निर्देशक अर्पित जैन, स्काउट गाइड से यज्ञदत्त हाड़ा सहित अन्य अधिकारी व कार्मिक उपस्थित रहे।

liveworldnews
Author: liveworldnews

Leave a Comment

लाइव क्रिकेट

संबंधि‍त ख़बरें

सोना चांदी की कीमत