Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

बाढ़ आपदा प्रबंधन/ अतिवृष्टि की तैयारीयों के लेकर समीक्षा बैठक आयोजित

संवाददाता दिनेश जाखड़

झुंझुनूं 04 जुलाई। जिले में बाढ़ व जल भराव की स्थिति के दौरान बचाव एवं राहत कार्यों की तैयारी को लेकर बाढ़ आपदा प्रबंधन की समीक्षा बैठक बुधवार को जिला कलक्टर चिन्मयी गोपाल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। बैठक में जिला कलेक्टर ने विद्युत जनित हादसों की रोकथाम के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए की कॉमर्शियल विद्युत कनेक्शन की जांच की जाए वही आम स्थान पर लगे ट्रांसफार्मर के आसपास सुरक्षा के प्रबंध किए जाएं। उन्होंने कहा की लापरवाही से करंट लगने की घटनाएं हो रही हैं इसके लिए उपभोक्ताओं को जागरूक करने के निर्देश दिए ।
बैठक में नगर पालिका के अधिकारियों को नालों की साफ- सफाई, सीवरेज लाइन के ढक्कन व नालियों के फेरो कवर लगाने के निर्देश दिए, वहीं शहरी क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट के कनेक्शन की जांच करने के निर्देश दिए। उन्होंने जल भराव की स्थिति से निपटने के लिए मिट्टी के कट्टों, पानी को निकालने की मोटर्स एवं सभी आवश्यक उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने उपखंड अधिकारियों एवं अधिशासी अधिकारियों को जल भराव वाले क्षेत्रों का चिन्हिकरण कर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करने के निर्देश दिए। जल भराव वाले स्थानों की फेंसिंग करवाने व चेतावनी बोर्ड लगाने के निर्देश दिए ।
जिला कलेक्टर ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को जल भराव वाली सड़कों पर संकेतक लगाने एवं गड्ढे भरने के निर्देश दिए। उन्होंने उपखंड स्तरीय अधिकारियों को आपदा के समय प्रभावित लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए भवनों एवं स्थानों को चिन्हांकित करने के निर्देश दिए, ताकि अस्थायी शिविर बनाए जा सकें। जिले में गोताखोरों की सूची तैयार करने के निर्देश दिए ताकि आवश्यकता पड़़ने पर तत्काल सम्पर्क किया जाए।
इस दौरान उन्होंने पंचायत स्तरीय अधिकारियों को ग्रामीण क्षेत्रों में जल भराव वाले स्थानों की पहचान करने व ग्राम पंचायत में उपलब्ध संसाधनों की कार्यशीलता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों व खनन क्षेत्र में जल भरने वाले तालाब व अन्य स्थानों पर चेतावनी बोर्ड लगाने के निर्देश दिए। एचडी के अधिकारियों को अतिवृष्टि के दौरान स्वच्छ पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को मौसमी बीमारियों की रोकथाम हेतु पर्याप्त दवाइयों की व्यवस्था एवं मानसून के समय मच्छरों की रोकथाम के लिए फोगिंग करवाने के भी निर्देश दिए।
बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर रामरतन सौंकरीया, जिला परिषद सीईओ अंबालाल मीणा, अति पुलिस अधीक्षक पुष्पेन्द्र सिंह राठौड सहित संबंधित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे वहीं जिले के समस्त उपखंड अधिकारी, अधिशासी अधिकारी व पंचायती राज के अधिकारी वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से वर्चुअली जुडे ।

liveworldnews
Author: liveworldnews

Leave a Comment

लाइव क्रिकेट

संबंधि‍त ख़बरें

सोना चांदी की कीमत