Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

भरतपुर संभाग अपनी दुर्दशा परआसूं बहा रहा है – दीपक मुदगल

संवाददाता
दीपचंद शर्मा भरतपुर |   

कुछ लोग आज भी नाले के सहारे खुले में शौच जा रहे हैं

भरतपुर, शहर के सर्कुलर रोड को मुख्य रोड के नाम से जाना जाता है। शहर में दूर दराज से आने वाले लोग,देश विदेश के पर्यटक, मंत्रीगण हों या अधिकारीगण या आमजन शहर परिधि में आने पर इस मुख्य सड़क से गुजरना पड़ता है। शहर की सुंदरता वहां की सड़क,रोड लाइट, साफ सफाई और अतिक्रमण रहित साफ सुथरी सड़कों से जानी जाती रही है जिसका श्रेय वहां के जनप्रतिनिधिऔर नगर निगम प्रशासन को जाता है। शहर में विकास कार्यों की बात हो तो विकास गिनाते गिनाते जनप्रतिनिधियों के मुंह थक जाते हैं। लेकिन पिछले कई वर्षों से बिजली घर से काली की बगीची तक का नजारा अदभुत नजर आएगा। यूं कहें तो यहां के नजारे को देखकर सब आंख बंद करके निकल जाते हैं। ऐसा लगता है कि इस रोड से नगर निगम की नजर दूर हो गई है। मंगल सिंह नगर को जोड़ती ये टूटी फूटी सड़क, पर बनी तंग पुलिया, की घिरी हुई दीवारें, बिजली विभाग का लगा हुआ ट्रांसफार्मर जिस पर पिछले कई वर्षों से कब्जा है । कभी भी कोई बड़ा हादसा भी हो सकता है। इस मुख्य सड़क पर हमेशा कूड़े का ढेर मिलेगा जहां आवारा सांडों का जमावड़ा जो दुर्घटनाओं को निमंत्रण है। इसके चारो तरफ लकड़ियों का ढेर रखा मिलेगा । यूं तो निगम स्वक्ष सर्वेक्षण 2024 में प्रथम आने के लिए अपने असम्भव प्रयास करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा, लेकिन शहर की कुछ तस्वीरें भी परिणाम दिखाने में पीछे नहीं रह सकती। पास में सुलभ शौचालय होने के बाद भी कुछ लोग आज भी नाले के सहारे खुले में शौच के लिए जा रहे हैं, जिन्हे देखकर राहगीर शर्मिंदगी के साथ निकल जाते हैं । स्थानीय पार्षद दीपक मुदगल ने कहा की इस क्षेत्र में विकास के लिए उन्होंने कई बार अपने विचार सदन और निगम के समक्ष रखे हैं, लेकिन निगम ने आज तक कोई खेर खबर नही ली। ट्रांसफार्मर से अतिक्रमण हटाने की खबर समाचार पत्रों में भी छप चुकी है लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। पार्षद ने खुले में शौच जाने वाले लोगों से कई बार समझाइश का प्रयास किया है। पार्षद ने कहा की निगम प्राइवेट कंपनी आने पर लगभग 15 करोड़ रुपए वार्षिक अधिक खर्च कर रहे हैं, लेकिन शहर की स्वक्छता रैंक पर कोई असर दिखाई नही दे रहा है। वहीं बिजली विभाग के अधिकारियों को ट्रांसफार्मर से अतिक्रमण हटाने की शिकायत भी पूर्व में की है लेकिन परिणाम कुछ नही है। पार्षद मुदगल ने बताया कि शहर के अनेक स्थानों में गंदगी के जगह-जगह जमा रहने के कारण समीपस्थ नाली भी जाम रहती है, जिससे समस्या और भी संकटपूर्ण हो कर रह गयी है। भारी गंदगी के कारण मच्छरों का भी प्रकोप काफी बढ़ गया है। शाम होते ही मच्छरों के आतंक से आम लोग परेशान हो रहे हैं इस सब की मूल जड़ खाली प्लॉट जल भराव और कूड़ा है,जिसके कारण स्थानीय लोगों को सारे दिन बदबू झेलनी पड़ती है। मुदगल ने कहा की निगम के मात्र छोटे से प्रयास से इन स्थानों का कायाकल्प हो सकता है जिससे मुख्य रोड की खूबसूरती में चार चांद लग जाएगा और आमजन को भी राहत मिलेगी।

liveworldnews
Author: liveworldnews

Leave a Comment

लाइव क्रिकेट

संबंधि‍त ख़बरें

सोना चांदी की कीमत